चेहरे की झुर्रियों को जड़ से मिटाने के आसान आयुर्वेदिक उपचार/घरेलू नुस्खे ?? ( Wrinkle problems )


wrinkles-problem-Ayurvedicupchar/kdhomeremedyhindi.com



हमारी त्वचा भी हमारे शरीर का महत्वपूर्ण हिस्सा है। धीरे-धीरे उम्र और रक्त के साथ जब इसमें खून के दौर में भी कमी होती है। तब यह सख्त और लटकना शुरू हो जाती है। चेहरे पर झुर्रियां ( Wrinkles ) की शुरुआत 25 साल की उम्र से ही शुरू हो जाती है। 30 से 35 की उम्र में यह कम होती है। परंतु 40 से 45 की उम्र वाली झुर्रियां ( Wrinkles ) होने की रफ्तार और बढ़ जाती हैं। हम चेहरे पर झुर्रियों ( Wrinkles ) को पड़ने से तो नहीं रोक सकते। लेकिन अगर नियमित रूप से त्वचा की देखभाल करें। तो झुर्रियां पड़ने की उम्र को कुछ पीछे धकेल सकते हैं। झुर्रियां ( Wrinkles ) पड़ने की और भी बहुत सारे वजह हो सकती हैं, ओर oily skin , dry skin shallow skin, chapped skin, and normal skin ऎसी अलग अलग त्वचा के उपाय भी अलग अलग ही है ,आइए उनके बारे में विस्तार और बारीकी से जानते हैं।


झुर्रियां दूर करने के आयुर्वेदिक उपचार/घरेलू नुस्खे ...

( Home Remedies to remove wrinkles )



मानसिक तनाव  ( Depression/ Mental Stress 

व्यक्ति को अगर किसी भी प्रकार का मानसिक तनाव है। उस वजह से भी चेहरे पर झुर्रियां ( Wrinkle ) पड़ जाती हैं। क्योंकि मानसिक तनाव से रक्त का संचार पूरे शरीर में पूर्ण रूप से नहीं हो पाता। जिससे त्वचा लटकाना शुरू हो जाती है। और चेहरे पर झुर्रियां ( Wrinkle ) ,दाग धब्बे पड़ना शुरू हो जाते हैं। 


ज्यादा धूप में घूमना... 


चेहरे पर झुर्रियां ( Wrinkle ) पड़ने का एक अहम कारण ज्यादा धूप में घूमना भी है। क्योंकि धूप की किरणें इतनी ज्यादा हानिकारक होती हैं। कि वह चेहरे को बेजान कर देती है। इसलिए जितना हो सके धूप से खुद को बचाएं। और अगर कहीं आपको धूप में बाहर जाना पड़े तो जितना हो सके, पूरे चेहरे को किसी दुपट्टे से कवर कर ले।



पानी कम पीना..... 


शरीर में अगर पानी की कमी हो। उसका असर चेहरे पर दिखना शुरू हो जाता है। जिससे चेहरे पर कील ,मुंहासे, दाग ,धब्बे, झुरिया आना शुरू हो जाते हैं। इसलिए जितना हो सके। पानी ज्यादा पिए, और दिन में कम से कम 8 लीटर पानी जरूर पीना चाहिए। पानी हमारे शरीर को फिल्टर करता है! 



देर रात तक जागना...


अगर व्यक्ति समय से ना सोए। और देर रात तक जागे, तब भी त्वचा पर झुर्रियां , आंखों के नीचे काले धब्बे ,पढ़ना शुरू हो जाते है। जिससे त्वचा का का निखार कम होना शुरू हो जाता है। और व्यक्ति उम्र से ज्यादा लगना शुरू हो जाता है। इसलिए रात को 9:00 बजे तक सो जाना चाहिए। और सुबह जल्दी उठ जाना चाहिए। और पूरी नींद 8 घंटे लेनी चाहिए।

 ज्यादा मेकअप करना..


अगर देखा जाए,तो आजकल महिलाएं ज्यादा मेकअप करना बहुत पसंद करते हैं। जिसके चलते वह इतने सारे केमिकल युक्त प्रोडक्ट इस्तेमाल कर लेती हैं। कि उसका असर चेहरे पर दिखना शुरू हो जाता है। चेहरा अपना असली रंगत खोना शुरू कर देता है। जिससे चेहरे पर झुरिया पढ़ना शुरू हो जाती हैं। जहां तक हो सके। ज्यादा मेकअप विशेष फंक्शन पर करें।


चेहरे की त्वचा कितने प्रकार के होती है????


त्वचा की देखभाल करने से पहले ही अपनी त्वचा की किस्मों का पता होना चाहिए। त्वचा वैसे तो कई प्रकार की होती हैं। लेकिन मुख्य यह वह तीन प्रकार की होती हैं! 

  • रूखी त्वचा  ( Dry Skin )
  • तैलीय त्वचा  ( Oily Skin )
  • नॉर्मल त्वचा ( Normal Skin )

wrinkles-Ayurvedicupaye/kdhomeremedyhindi.com

 नॉर्मल त्वचा ( Normal Skin ) 


इस तरह की त्वचा देखने में साफ़ अथवा Plain होती है। यह ना तो तेलिया होती है, ना ही ज्यादा रूखी ऐसी त्वचा की देखभाल के लिए दिन में दो या तीन बार फेस वॉश से मुंह धोए।


रूखी त्वचा ( Dry Skin )..

रूखी त्वचा ( Dry skin ) को की मॉइस्चराइजर आवश्यकता होती है। आमतौर पर ऐसी त्वचा पर जल्दी झुर्रियां ( wrinkles) पड़ती है। इसकी ज्यादा प्रॉब्लम सर्दियों में होती हैं। ऐसे त्वचा के लिए हमेशा दूध युक्त फेस वॉश इस्तेमाल करना चाहिए। और रात को सोने से पहले हल्की कोल्ड क्रीम की मालिश करनी चाहिए। 


क्या करें????

हफ्ते में एक बार अंडे का पीला हिस्सा लेकर उसमें नींबू और कुछ बूंदे जैतून के तेल की  कुछ बूंदे मिक्स करके अच्छे से मिश्रण बना लें। और इस पैक को चेहरे पर लगाएं। इसके अलावा त्वचा पर कुछ बूंदे शहद की भी अंडे की जर्दी में मिक्स करके लगा सकते हैं। और इस pack  को तब तक रखें। जब तक यह सुख ना जाए। सूखने के बाद गुनगुने पानी से अपना मुंह धो ले।



तैलीय त्वचा ( Oily Skin )


 ऐसे त्वचा पर हमेशा तेल सा आता है। ऐसी त्वचा पर झुरिया ( Winkles ) तो जल्दी नहीं पड़ती। परंतु ऐसी त्वचा पर कील मुंहासे जल्दी आ जाते हैं। अगर किसी की त्वचा बहुत ज्यादा तेलीय है। तो उससे protein  से भरपूर भोजन करना चाहिए। और ज्यादा चीनी तेल मसाले खाने से परहेज करना चाहिए। 


क्या करें????

हफ्ते में एक बार खीरे का रस निकालकर उसमें नींबू के रस की दो बूंदे मिलाकर चेहरे और गर्दन पर अच्छे तरीके से लगाएं। और उसको सूखने पर धोए।


बेजान त्वचा  (Sallow skin )


इस तरह की त्वचा को नो कलर्स लुक ( no colour looks ) भी कहा जाता है। क्योंकि ऐसी त्वचा बुझी हुई तथा बेजान होती है। जो अपनी रंगत हो चुकी होती है। ऐसी त्वचा के लिए आपको 15 दिन में एक बार रेगुलर फेशियल ( regular fruit facial ) लेना चाहिए। जिससे स्किन पर रंगत वापस आ जाए।


फटी हुई त्वचा ( chapped skin )




फटी हुई त्वचा के लिए आप चेहरे पर हर रोज एलोवेरा लगाएं इसके लिए आप घर पर लगे हुए। एलोवेरा को तोड़कर उसके अंदर पेस्ट को निकालकर चेहरे पर मसाज करें। या फिर अंडे की जर्दी को निकाल कर उसने बादाम को पीसकर डाल दे। और नींबू की दो बूंदे डाल दे। एक मिश्रण तैयार कर ले ,और उसको चेहरे पर लगाएं। इस मिश्रण को हफ्ते में दो बार जरूर लगा ले। इससे आपकी फटी हुई त्वचा ठीक हो जाएगी। और चेहरे पर झुर्रियों ( Wrinkles )जैसी समस्या का भी समाधान हो जाएगा।



अगर आप अपनी त्वचा की देखभाल अच्छे से करना चाहते हैं। तो ज्यादा हैवी मेकअप से बचें और ज्यादा पानी पर और हफ्ते में दो या तीन बार एलोवेरा का पेस्ट निकालकर उससे चेहरे पर हल्के हाथों से मसाज करें। इससे आपकी त्वचा झुर्रियों ( Wrinkles ) और कील मुंहासे जैसे प्रॉब्लम से बची रहेगी। 



ayurvedicupaye-gharelunuskhe/kdhomeremedyhindi.com




Post a Comment

और नया पुराने